Videos, Members, Events, Audio Files, Photos और Blogs में खोजें Search

Punjabi Christian Fellowship|United States

BE PARTNER WITH US TO REACH THE PUNJABI WORLD IN THE WORLD www.punjabichristianfellowship.org


मेरी प्रार्थना

1 I lift up my eyes to you, to you whose throne is in heaven. 2 As the eyes of slaves look to the hand of their master, as the eyes of a maid look to the hand of her |और

प्रार्थना में जुडें

Kids Pastor

युवा पादरी

उपासना पादरीओं

स्टाफ सदस्य

वरिष्ठ पादरीओं

नेतृत्व सदस्य

एसोसिएट पादरीओं

सदस्य

सदस्य की

Community ads

मेरा Blog

«पीछे

"मुक्ति दिलाये यीशु नामु" जुलाई 13, 2018

Jul 12, 2018

45 अवलोकनें
     (0 रेटिंग)

 

"मुक्ति दिलाये यीशु नामु" जुलाई 13, 2018  
पुत्र मैं यहोवाह तेरा उद्धार करता हूँ, मैंने तुम्हें गर्भ ही से बनाया है, 
पुत्र मैं ने ही सभ रचना की है और मेरे बिना कुछ भी रचा नहीं गया,
पुत्र मैंने अकेले ही ने आकाश को ताना है, 
और मैंने ही पृथ्वी को अपनी शक्ति से फैलाया है। 
(यशायाह 44:24)
पुत्र तुम पवित्र बनो और मेरी आराधना करो क्योंकि मैं पवित्र हूँ। पुत्र मैं सृष्टि की सुंदरता में हूँ तथा हर सुंदरता में मेरा अंश है। मैं स्वं की बुद्धिमत्ता से संसार को चलाता हूँ। मैं रहस्यबादी कलाकार हूँ जो सारी सृष्टि को अद्भुत ऋतुओं से अति सूंदर तथा आकर्षक बनाता हूँ। पुत्र मैं ही तुम्हारे गुनाहों का कचरा साफ करने के लिए तुम्हारी जगह स्लीव पर मरा तांकि तुम्हें गुनाहों की कैद से छुटकारा मिले तथा तुम्हें अनन्तकाल के जीवन का उपहार मिले। पुत्र मैंने तुम्हारे संगीन गुनाहों के बदले में तुम्हें अपनी पवित्रता दी तांकि तुम सदा का जीवन मेरे साथ मेरे घर में बिताओ। 
पुत्र मैं ने तुम्हारे लिए यह सभ कुछ इस लिए किया क्योंकि मैं तुम्हें अनन्त प्यार करता हूँ। पुत्र मुझे तुम्हारे से उपेक्षा है कि तुम मेरे पीछे पीछे चलो तथा अपने हृदयों को शुद्ध कर उन्हें मेरा मन्दिर बनाओ। मैं जानता हूँ कि तुम्हें मेरी बहुत आवश्यकता है तथा मेरा अब्राहम के साथ किया हुआ अनन्त बख्शीशों का वायदा भी मुझे याद है तथा उसकी पूर्ति का समय आ चुका है। पुत्र मैं कभी भी अपने वायदे नहीं बदलता और मेरा अब्राहम के साथ हुआ वायदा आज भी अटल है।
पुत्र तुम्हारा अहंकार तुम्हें स्वं की रक्षा करने का भरोसा दिलाता है तथा तुम्हारे मेरे साथ संबंधों की आवश्यकता नहीं समझता और तुम्हें मेरे विरोध में उकसाता रहता है। मैं तुम्हारे मन के अड़ियल सुभाव को बदलना चाहता हूँ तथा तुम्हें पूरी तरह अपने सुरक्षा कवच में ले लेना चाहता हूँ क्योंकि तुम मेरे अधिकार में रहने के लिए बनाये गया हो। पुत्र तुम्हारे लिए यह अत्यन्त आवश्यक कि तुम मेरी इच्छा के अनुसार रहो क्योंकि मैं ही सर्व शक्तिमान परमेश्वर हूँ और तुम मेरी इच्छा में रहने के लिए रचे गए हो। तुम स्वं को मेरी ओर मोड़ो और मेरे भरोसे में रहो क्योंकि मैं ही भरोसे योग्य हूँ।
वचन: यशायाह 44:24, भजन संहिता 29:2, तथा 27:4, पतरस 1:16
www.punjabichristianfellowship.org

"मुक्ति दिलाये यीशु नामु" जुलाई 13, 2018  


पुत्र मैं यहोवाह तेरा उद्धार करता हूँ, मैंने तुम्हें गर्भ ही से बनाया है, 

पुत्र मैं ने ही सभ रचना की है और मेरे बिना कुछ भी रचा नहीं गया,

पुत्र मैंने अकेले ही ने आकाश को ताना है, 

और मैंने ही पृथ्वी को अपनी शक्ति से फैलाया है। 

(यशायाह 44:24)


पुत्र तुम पवित्र बनो और मेरी आराधना करो क्योंकि मैं पवित्र हूँ। पुत्र मैं सृष्टि की सुंदरता में हूँ तथा हर सुंदरता में मेरा अंश है। मैं स्वं की बुद्धिमत्ता से संसार को चलाता हूँ। मैं रहस्यबादी कलाकार हूँ जो सारी सृष्टि को अद्भुत ऋतुओं से अति सूंदर तथा आकर्षक बनाता हूँ। पुत्र मैं ही तुम्हारे गुनाहों का कचरा साफ करने के लिए तुम्हारी जगह स्लीव पर मरा तांकि तुम्हें गुनाहों की कैद से छुटकारा मिले तथा तुम्हें अनन्तकाल के जीवन का उपहार मिले। पुत्र मैंने तुम्हारे संगीन गुनाहों के बदले में तुम्हें अपनी पवित्रता दी तांकि तुम सदा का जीवन मेरे साथ मेरे घर में बिताओ। 


पुत्र मैं ने तुम्हारे लिए यह सभ कुछ इस लिए किया क्योंकि मैं तुम्हें अनन्त प्यार करता हूँ। पुत्र मुझे तुम्हारे से उपेक्षा है कि तुम मेरे पीछे पीछे चलो तथा अपने हृदयों को शुद्ध कर उन्हें मेरा मन्दिर बनाओ। मैं जानता हूँ कि तुम्हें मेरी बहुत आवश्यकता है तथा मेरा अब्राहम के साथ किया हुआ अनन्त बख्शीशों का वायदा भी मुझे याद है तथा उसकी पूर्ति का समय आ चुका है। पुत्र मैं कभी भी अपने वायदे नहीं बदलता और मेरा अब्राहम के साथ हुआ वायदा आज भी अटल है।


पुत्र तुम्हारा अहंकार तुम्हें स्वं की रक्षा करने का भरोसा दिलाता है तथा तुम्हारे मेरे साथ संबंधों की आवश्यकता नहीं समझता और तुम्हें मेरे विरोध में उकसाता रहता है। मैं तुम्हारे मन के अड़ियल सुभाव को बदलना चाहता हूँ तथा तुम्हें पूरी तरह अपने सुरक्षा कवच में ले लेना चाहता हूँ क्योंकि तुम मेरे अधिकार में रहने के लिए बनाये गया हो। पुत्र तुम्हारे लिए यह अत्यन्त आवश्यक कि तुम मेरी इच्छा के अनुसार रहो क्योंकि मैं ही सर्व शक्तिमान परमेश्वर हूँ और तुम मेरी इच्छा में रहने के लिए रचे गए हो। तुम स्वं को मेरी ओर मोड़ो और मेरे भरोसे में रहो क्योंकि मैं ही भरोसे योग्य हूँ।


वचन: यशायाह 44:24, भजन संहिता 29:2, तथा 27:4, पतरस 1:16


www.punjabichristianfellowship.org

pcfministry.us@yahoo.com